जिला मुख्यालय में बिना अनुमति हो रही प्लाटिंग,अधिकारी ने नोटिस भेजकर मांगा जवाब

कौशाम्बी

जिला मुख्यालय मंझनपुर समेत दर्जन भर स्थानों को विनियमित क्षेत्र घोषित किया गया है। यहां पर बगैर अनुमति के प्लाटिग व निर्माण नहीं हो सकता है। इसके बाद भी कारोबारी अवैध तरीके से प्लाटिग और निर्माण कार्य कर रहे थे। लेखपाल की रिपोर्ट पर नियत प्राधिकारी, विनियमित क्षेत्र ने पांच कारोबारियों को नोटिस देकर जवाब मांगा है। जिला मुख्यालय मंझनपुर समेत एक दर्जन से अधिक ग्रामसभा को विनियमित क्षेत्र घोषित किया गया। जिसमें पाता, ओसा, बबुरा, भड़ेसर, गौरा, समदा, टेंवा, कोडर आदि स्थान शामिल हैं। जिला प्रशासन व विनियमित क्षेत्र नियत प्राधिकारी की ओर से विनियमित क्षेत्र में प्लाटिंग, मकान निर्माण व अन्य विकास से जुड़े कार्यों में रोक लगाई है। इसके बावजूद पाता, ओसा, बबुरा, भड़ेसर, गौरा, समदा में प्लाटिग का कार्य तेजी से चल रहा है। शिकायत के बाद विनियमित क्षेत्र के नियत प्राधिकारी राकेश चंद्रा ने पूरे प्रकरण की जांच कराई तो पांच स्थानों पर अवैध तरीके प्लाटिग की जा रही थी। अवैध कारोबार को लेकर मंझनपुर के नया पुरवा निवासी विष्णु, पाता बस डिपो पास के निवासी मिराज हैदर, मंझनपुर चक नगर निवासी इरशाद अहमद, पाता मंझनपुर निवासी रीना कटियार व मंझनपुर निवासी बंशीलाल चौरसिया को नोटिस देकर जवाब मांगा है।

Ashok Kesarwani- Editor
Author: Ashok Kesarwani- Editor