बोर्ड परीक्षा में नकल रोकने को केंद्रों की होगी वेबकॉस्टिंग

कौशाम्बी

यूपी बोर्ड हाईस्कूल व इंटरमीडिएट की परीक्षाएं नकलविहीन संपन्न कराने के लिए जिला प्रशासन व शिक्षा विभाग ने अभी से रणनीति तैयार करनी शुरू कर दी है। कोविड-19 के मद्देनजर इस बाद पिछले वर्ष से डेढ़ गुना अधिक परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। डीएम ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को निर्देश जारी किया है कि मानक पूरा करने वाले कॉलेज को ही परीक्षा केंद्र बनाया जाएं। सभी परीक्षा केंद्रों पर वीडियो, वायस रिकार्डिग लगाए जाएं। जीपीएस सिस्टम के जरिए परीक्षा की फुटेज को ऑनलाइन (वेबकास्टिंग) किया जाए।जिलाधिकारी अमित कुमार सिंह ने बताया कि पिछले सत्र में संपन्न हुई बोर्ड की परीक्षा में 77 परीक्षा केंद्र बने थे। कोविड-19 के मद्देनजर इस बार 100 से अधिक परीक्षा केंद्र बनाए जाएंगे। जिला विद्यालय निरीक्षक सत्येंद्र सिंह ने बताया कि सभी परीक्षा केंद्रों में सीसीटीवी कैमरा व वायस रिकार्डर लगाया जाएगा। डीएम ने जिला विद्यालय निरीक्षक से स्पष्ट किया है कि परीक्षा के दौरान सीसीटीवी कैमरा व वायस रिकार्डर को चालू होना जरूरी है। जहां बिजली का इंतजाम न हो वहां जनरेटर का इंतजाम किया जाए।विद्यालय के अंदर नकल रोकने के पुख्ता इंतजाम के लिए कक्ष निरीक्षक समेत सेक्टर व जोनल मजिस्ट्रेटों को लगाया जाएगा। जो परीक्षा के दौरान एक-एक गतिविधि पर नजर बनाए रहेंगे। सभी संवेदनशील व अतिसंवेदनशील में सीसीटीवी के साथ ही इन फुटेज को लगातार ऑनलाइन किया जाए।

Ashok Kesarwani- Editor
Author: Ashok Kesarwani- Editor